अनुनाद

अनुनाद

आलोचना / समीक्षा

साहित्‍य ज़माने भर से किया जानेवाला इश्‍क़ है – कुमार अम्‍बुज

साहित्‍य में संगठनों की प्रासंगिकता पर बहस लगातार बढ़ी है। वैचारिक प्रतिरोध और विमर्श के लिए व्‍यक्तिकेंद्रित गैरवैचारिक समूहों के बरअक्‍स

Read More...

छंद की समकालीनता या तो यमाताराजभानसलगाः 1 – संदीप तिवारी

संदीप तिवारी हिन्‍दी के सुपरिचित युवा कवि हैं। उन्‍‍हें वर्ष 2019 में कविता के लिए रविशंकर उपाध्‍याय स्‍मृति पुरस्‍कार मिला है।

Read More...

सबको अपना अपना भारत खोजना पड़ता है : हिन्‍दनामा पर अभिनव निरंजन

कविता-संग्रह: हिन्दनामा लेखक: कृष्ण कल्पित प्रकाशक: राजकमल, 2019 …………………………………. कुफ़्रो-इमां का फ़र्क मिटाने आया हूँ मैं जाम-बकफ़ तौबा करने आया हूँ

Read More...
error: Content is protected !!
Scroll to Top